लंच तक ऑस्ट्रेलिया की आधी टीम पवेलियन लौटी, जडेजा ने लाबुशेन और मैथ्यू वेड को आउट किया


भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट की सीरीज का तीसरा मैच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेला जा रहा है। दूसरे दिन लंच तक ऑस्ट्रेलिया ने 5 विकेट गंवाकर 249 रन बना लिए हैं। फिलहाल, स्टीव स्मिथ क्रीज पर हैं। कैमरून ग्रीन बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। उन्हें जसप्रीत बुमराह ने LBW किया। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें…

दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया ने 2 पर 166 रन से आगे खेलना शुरू किया था। लंच से पहले दो बार बारिश ने खलल डाला, लेकिन ज्यादा देर मैच को रोक नहीं सकी।

जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया को 2 बड़े झटके दिए
इसी बीच रविंद्र जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया को 2 बड़े झटके दिए। पहले मार्नस लाबुशेन को 91 रन पर अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट कराया। उन्होंने टेस्ट करियर की 9वीं फिफ्टी लगाई। साथ ही स्मिथ के साथ तीसरे विकेट के लिए 100 रन की पार्टनरशिप भी की। इसके बाद जडेजा ने मैथ्यू वेड (13) को जसप्रीत बुमराह के हाथों कैच आउट कराया।

पुकोव्स्की ने डेब्यू टेस्ट में फिफ्टी लगाई

मैच में डेब्यू टेस्ट खेल रहे ऑस्ट्रेलियाई ओपनर विल पुकोव्स्की ने करियर की पहली फिफ्टी लगाई। उन्हें पवेलियन भी डेब्यू टेस्ट खेल रहे भारतीय तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने ही भेजा। पुकोव्स्की 62 रन बनाकर LBW हुए।

डेब्यू मैच में डेब्यूटेंट को आउट करने वाले सैनी 5वें भारतीय

सैनी अपने डेब्यू मैच में विपक्षी टीम के डेब्यूटेंट को आउट करने वाले 5वें भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। पिछली बार जहीर खान ने 2000 के ढाका टेस्ट में मेहराब हुसैन को आउट किया था। वहीं, सबसे पहले विजय हजारे ने 1946 में लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लिश क्रिकेटर एलेक बेडसेर को आउट किया था।

डेब्यू मैच में पुकोव्स्की को दो जीवनदान

ओपनर पुकोव्स्की को विकेटकीपर ऋषभ पंत ने दो जीवनदान दिए। पारी के 22वें ओवर की आखिरी बॉल पर पहला कैच छोड़ा। तब पुकोव्स्की 26 रन पर खेल रहे थे। ओवर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का था। पंत ने दूसरा जीवनदान 25वें ओवर की आखिरी बॉल दिया। हालांकि, अंपायर ने आउट दिया था। इसके बाद पुकोव्स्की के DRS लेने के बाद उन्हें नॉटआउट करार दिया गया। इस समय वे 32 रन पर खेल रहे थे।

ऑस्ट्रेलिया की खराब शुरुआत, वॉर्नर जल्दी पवेलियन लौटे

मेजबान टीम की पहली पारी में खराब शुरुआत हुई। चौथे ओवर में ही मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका दिया। डेविड वॉर्नर 5 रन बनाकर पवेलियन लौटे। चेतेश्वर पुजारा ने उनका कैच लिया। इसके बाद पुकोव्स्की ने लाबुशेन के साथ दूसरे विकेट के लिए 100 रन की पार्टनरशिप कर पारी को संभाला। आखिर में लाबुशेन ने स्मिथ के साथ तीसरे विकेट के लिए 60 रन की नाबाद पार्टनरशिप की।

सिडनी में चौथी बार फ्लॉप रहे वॉर्नर

वॉर्नर सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में चौथी बार दहाई का आंकड़ा नहीं छू सके। इस मैदान पर उन्होंने पिछले 5 टेस्ट में 4 शतक और 2 फिफ्टी लगाई। वॉर्नर ने सिडनी में 9 टेस्ट की 14 पारियों में 737 रन बनाए।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


भारतीय स्पिनर रविंद्र जडेजा ने 2 विकेट लिए। उन्होंने मार्नस लाबुशेन और मैथ्यू वेड को पवेलियन भेजा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *