बलूचिस्तान में खदान में काम कर रहे 11 वर्कर्स को किडनैप किया, पहाड़ों में ले जाकर गोली मारी


पाकिस्तान के बलूचिस्तान में शनिवार रात कुछ अज्ञात हथियारबंद लोगों ने कोल माइंस में काम कर रहे 11 लोगों की हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक, हमलावरों ने पहले वर्कर्स को अगवा कर लिया और पास की पहाड़ियों में ले गए। वहां उन्हें गोली मार दी गई। इस इलाके में पहले भी सिक्योरिटी फोर्स और पुलिस चौकियों पर हमले होते रहे हैं। इस वजह से यहां पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

डिप्टी कमिश्नर मुराद कास्ज ने बताया कि मच्छ एरिया में हुए हमले में घायल चार लोगों का इलाज चल रहा है। मरने वालों की संख्या 11 तक पहुंच गई है। घटना के तुरंत बाद सिक्योरिटी फोर्स, पुलिस और फ्रंटियर कॉर्प्स (FC) ने इलाके को घेर लिया।

इमरान ने आतंकी हमला बताया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इसे आतंकी हमला बताया है। उन्होंने कहा कि बलूचिस्तान में 11 निर्दोष मजदूरों की हत्या आतंकवादियों का एक और कायरता से भरा काम है। सरकार पीड़ित परिवारों के साथ है। उन्होंने फ्रंटियर कॉर्प्स से कहा है कि हत्यारों को पकड़ने और पीड़ितों को इंसाफ दिलाने के लिए सभी कोशिशें करें।

खदानों में काम करने वालों में दहशत

इस हमले से कोल माइंस में काम करने वाले वर्कर्स में दहशत है। उन्हें डर है कि आतंकियों के अगले शिकार वे हो सकते हैं। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री जाम कमाल ने अधिकारियों से डिटेल में जांच रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि अपराधियों ने बढ़ते दबाव के कारण निर्दोष मजदूरों को निशाना बनाया है। उनके साथ कोई रियायत नहीं बरती जाएगी।

उन्होंने कहा कि इस तरह के आतंकवादी हमलों के पीछे जो लाेग हैं, उन्हें सामने लाया जाएगा। उनका इकलौता मकसद बलूचिस्तान की शांति को बिगाड़ना था। राज्य के गृह मंत्री मीर जिया ने कहा कि आरोपियों की गिरफ्तारी में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य की शांति के लिए खत्म करने की लगातार नाकाम कोशिशें की जा रही हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


बलूचिस्तान के इस इलाके में पहले भी सिक्योरिटी फोर्स और पुलिस चौकियों पर हमले होते रहे हैं। इस वजह से यहां पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है। – फाइल फोटो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *