जनवरी से जून के बीच शाहीन बाग हुआ और नमस्ते ट्रंप भी, दिल्ली में झाड़ू चली तो एमपी में कमल खिला और इसके बाद आया लॉकडाउन…


2020 की शुरुआत में कोरोना दुनिया में तो पैर पसार रहा था, मगर भारत में सियासत चरम पर थी। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस (NRC) के खिलाफ शाहीन बाग समेत देश के कई हिस्सों में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हो रहे थे। इसी दौरान जेएनयू कैंपस पर नकाबपोशों ने हमला बोल दिया। दूसरी ओर दिल्ली में केजरीवाल सरकार की वापसी हो गई। वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में नमस्ते करके जैसे ही दिल्ली पहुंचे, वहां दंगे छिड़ गए।

राजनीति यही नहीं थमी। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार 15 महीने बाद ही गिर गई। कांग्रेस के ही ज्योतिरादित्य सिंधिया की मदद से प्रदेश में शिवराज का कमल फिर खिल उठा। उधर, मार्च आते-आते कोरोना का खतरा इतना बढ़ गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को एक दिन का जनता कर्फ्यू लगवाया और 24 मार्च से शुरू हो गया लॉकडाउन का सिलसिला। आइये तस्वीरों में देखते हैं जनवरी से अप्रैल के बीच अपने देश का हाल…

जनवरी: JNU कैंपस में हमला हुआ, शाहीन बाग में CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन जारी रहा

फरवरी:अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प तीन दिन के दौरे पर भारत आए, संशोधित नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली में दंगे हुए

मार्च: सिंधिया भाजपा में आए, कमलनाथ ने सीएम पद से इस्तीफा दिया, पहला लॉकडाउन लगा

अप्रैल: देशभर में लॉकडाउन जारी रहा, पीएम की अपील पर लोगों ने कोरोना वॉरियर्स के लिए दीये जलाए

मई: पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद रहा तो प्रवासी पैदल ही अपने घर की ओर निकल पड़े

जून : तीन कृषि कानून को मिली राष्ट्रपति की मंजूरी

जुलाई से दिसंबर तक देश की तस्वीरें देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Photos of 2020; Welcome 2021 | JNU Attack Lockdown To Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *