गृह मंत्री बोले- शहीद खुदीराम बोस के घर आकर ऊर्जा मिली, ममता जैसी ओछी राजनीति नहीं देखी


तृणमूल कांग्रेस में हो रही बगावत के बीच गृह मंत्री अमित शाह कोलकाता पहुंच गए हैं। मिशन बंगाल की शुरुआत उन्होंने रामकृष्ण आश्रम जाकर की। यहां उन्होंने रामकृष्ण परमहंस और स्वामी विवेकानंद को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद वे स्वतंत्रता सेनानी खुदीराम बोस के घर गए और उनके परिवार वालों से मुलाकात की। यहां उन्होंने कहा कि खुदीराम बोस के घर आकर नई ऊर्जा का अनुभव कर रहा हूं।

गृह मंत्री ने कहा कि बंगाल की मिट्टी को कपाल पर लगाने का सौभाग्य मिला। स्वतंत्रता संग्राम में बंगाल और बंगालियों का योगदान कोई भुला नहीं सकता। खुदीराम बोस ने सिर्फ 18 साल की उम्र में देश के लिए जान दे दी। उस समय कई युवा धोती पर उनका नाम लिखने लगे थे।

उन्होंने कहा कि ये संयोग ही है कि आज ही के दिन राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां, रोशन सिंह और राजेंद्र नाथ लाहिड़ी को भी फांसी हुई थी। युवाओं से कहना चाहता हूं कि देश के लिए मरना का मौका तो नहीं मिला, पर देश के लिए जीने का मौका जरूर मिला। खुदीराम बोस के सिद्धांतों पर चलकर हम भविष्य के काम करेंगे।

खुदीराम बोस जितने बंगाल के थे, उतने भारत के लिए थे। बिस्मिल जितने यूपी के थे, उतने भारत के थे। बंगाल में जैसी ओछी राजनीति देखी जा रही है, वैसी पहले कभी नहीं देखी गई। शाह के साथ पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष और कैलाश विजयवर्गीय मौजूद हैं।

अमित शाह ने स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा के सामने सिर झुकाया।

दो दिन के इस दौरे में वे बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति का खाका खींचेंगे।पश्चिम बंगाल के चुनाव में भाजपा कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। इसलिए राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कोरोना संक्रमित होने के बाद यहां का चुनावी मोर्चा खुद अमित शाह ने संभाला है।

शाह मिदनापुर में आज एक रैली करेंगे। अटकलें हैं कि इस दौरान CM ममता बनर्जी से नाराज चल रहे TMC के 9 विधायक और एक सांसद भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इनमें हाल में पार्टी छोड़ने वाले ताकतवर नेता शुभेंदु अधिकारी के अलावा विधायक शीलभद्र दत्ता शामिल हैं।

ममता से तनातनी और चुनाव के कारण दौरा अहम

इस समय केंद्र और ममता सरकार के संबंध अच्छे नहीं चल रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला, भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले और राज्य के अधिकारियों से जवाब-तलब के कारण यह तल्खी ज्यादा बढ़ गई है। इसी बीच अमित शाह का दौरा अहम हो जाता है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा है कि अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा हर महीने पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे। यहां अगले साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है। पहले नड्डा अक्टूबर में एक दिन के लिए उत्तरी बंगाल गए थे। कुछ दिन पहले ही वे दो दिन के दौरे पर पहुंचे थे।

19 दिसंबर को शाह का प्रोग्राम

  • बंगाल दौरे के पहले दिन शाह ने कोलकाता में श्री रामकृष्ण मिशन आश्रम में स्वामी विवेकानंद को श्रद्धांजलि दी।
  • दोपहर में उन्होंने मिदनापुर में मां सिद्धेश्वरी मंदिर में पूजा की। इसके बाद यहीं स्वतंत्रता सेनानी खुदीराम बोस को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद वह दोपहर 1.25 बजे देवी महामाया मंदिर में पूजा की।
  • यहां से शाह मिदनापुर के बेलिजुरी गांव गए। यहां एक किसान परिवार यहां उनके खाने का इंतजाम है।
  • 2.30 बजे वह मिदनापुर कॉलेज मैदान में एक रैली करेंगे।
  • शाम 7.30 बजे वह ‘द वेस्टिन’ कोलकाता में राज्य के केंद्रीय मंत्रियों, संगठन सचिवों, जोनल पर्यवेक्षकों और प्रदेश भाजपा महासचिवों के साथ चुनाव की तैयारियों की समीक्षा करेंगे।

20 दिसंबर को शाह का प्रोग्राम

  • गृह मंत्री अमित शाह सुबह 11 बजे विश्व भारती विश्वविद्यालय, शांति निकेतन जाएंगे। यहां रवींद्र भवन में वह गुरु रवींद्रनाथ टैगोर को श्रद्धांजलि देंगे।
  • यहां वह मीडिया से बात करेंगे। इसके बाद वह विश्वविद्यालय के संगीत भवन जाएंगे और दोपहर 12 बजे यहां के बांग्लादेश भवन सभागार में उनका भाषण होगा।
  • यहां से वह बीरभूम के लिए रवाना हो जाएंगे। वह बीरभूम के श्यामबती, पारुलदंगा में दोपहर 12.50 बजे बाउल गायक परिवार के साथ भोजन करेंगे।
  • दोपहर दो बजे अमित शाह बोलपुर में स्टेडियम रोड स्थित हनुमान मंदिर से बोलपुर सर्कल तक रोड शो करेंगे।
  • शाम 4.45 बजे वह मोहोर कुटीर रिसॉर्ट में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। इसके बाद दिल्ली के रवाना हो जाएंगे।

200+ का लक्ष्य रखा, लोकसभा में मिली थी 18 सीटें

भाजपा ने 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव में 294 सीटों में से 200+ सीटों का लक्ष्य रखा है। शाह और नड्डा कई बार सार्वजनिक मंच से इसका ऐलान कर चुके हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया था। तब बंगाल की 42 में से 18 सीटें भाजपा के खाते में गई थीं।

नड्डा और विजयवर्गीय पर हुआ था हमला

पिछले 9 और 10 दिसंबर को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा अपने दो दिन के बंगाल दौरे पर थे। तब उनके काफिले पर TMC के गढ़ कहे जाने वाले दक्षिण 24 परगना जिले के डायमंड हार्बर में हमला हुआ था। इसका आरोप TMC पर ही लगा था। इस मामले में नड्डा की सुरक्षा में लगे तीन IPS अफसरों पर केंद्र सरकार ने कार्रवाई करते हुए उन्हें केंद्रीय एजेंसियों से संबद्ध कर दिया है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Amit Shah Mamata Banerjee Updates| Amit Shah in Mamata Banerjee West Bengal Updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *