चुनाव के दौरान सरकार की फ्री वैक्सीन की घोषणा पर EC पहुंची भाजपा, बिहार में खुद यही ऐलान किया था


केरल में फ्री कोरोना वैक्सीन का ऐलान चुनावी मुद्दा बन गया है। दरअसल, CM पिनरई विजयन ने शनिवार को राज्य के सभी लोगों को फ्री में वैक्सीन देने की बात कही थी। इसके एक दिन बाद ही विपक्षी पार्टियां इसके खिलाफ शिकायत लेकर इलेक्शन कमीशन के पास पहुंच गईं। दिलचस्प यह है कि इनमें भाजपा भी शामिल है, जिसने बिहार में चुनाव के दौरान अपने घोषणा पत्र में ऐसा ही वादा किया था।

विपक्ष ने कहा- सरकार चुनाव को प्रभावित करना चाहती है

केरल में निकाय चुनाव चल रहे हैं। यहां के चार जिलों में 14 दिसंबर को वोटिंग होनी है। विपक्षी दलों का कहना है कि फ्री वैक्सीन की घोषणा करके सरकार चुनाव को प्रभावित करना चाहती है। BJP के स्टेट चीफ के सुरेंद्रन ने इलेक्शन कमीशन को दी शिकायत में आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ऐसी घोषणा करके वोटरों को बहकाने की कोशिश कर रहे हैं। यह मॉडल कोट का वॉयलेशन है।

विपक्षी गठबंधन यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के कन्वीनर एमएम हसन ने कहा कि वोटिंग से पहले CM का फ्री वैक्सीन का ऐलान मॉडल कोड का वायलेशन है। उन्होंने कहा कि इस समय ऐसी घोषणा की तुरंत कोई जरूरत नहीं थी। कांग्रेस के सीनियर लीडर केसी जोसेफ ने भी इस मसले पर इलेक्शन कमीशन को ऑनलाइन कंप्लेंट की है।

CPI (M) ने कहा-विपक्ष के आरोप बचकाने

लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट के कन्वीनर और CPI (M) के स्टेट सेक्रेटरी इनचार्ज ए विजयराघवन ने त्रिशूर में कहा कि सीएम का बयान राज्य में चल रही कोरोना की रोकथाम की कोशिशों का हिस्सा है। विपक्ष का आरोप बचकाना है। राज्य में कोरोना का इलाज फ्री में किया जा रहा है। मुफ्त में वैक्सीन देने की बात भी इसी का हिस्सा है।

सीएम ने कहा- यह हमारी सरकार का स्टैंड

केरल के सीएम ने शनिवार को कहा था कि राज्य में सभी लोगों को फ्री में वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने कन्नूर में पत्रकारों से कहा था कि वैक्सीन के लिए किसी से पैसे नहीं लिए जाएंगे। यह हमारी सरकार का स्टैंड है। विजयन ने राज्य को मिलने वाली वैक्सीन की संख्या भी बताई। हालांकि, अब तक केंद्र सरकार ने यह साफ नहीं किया है कि किस राज्य को कितनी वैक्सीन मिलेंगी।

केरल कोरोना से प्रभावित राज्यों में छठवें नंबर पर है। यहां कुल छह लाख 64 हजार 633 मरीज मिल चुके हैं। यहां 2,595 लोगों की मौत हो चुकी है।

तीन वैक्सीन को जल्द अप्रूवल मिलने की उम्मीद

केंद्र ने मंगलवार को कहा कि तीन वैक्सीन भारत बायोटेक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और फाइजर की वैक्सीन को मंजूरी देने पर विचार चल रहा है। जल्द ही इन्हें अप्रूवल मिलने की उम्मीद है। इसके अलावा पांच वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल के दौर में हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


केरल में निकाय चुनाव चल रहे हैं। यहां चार जिलों में 14 दिसंबर को वोटिंग होनी है। इस दौरान कोरोना बड़ा मुद्दा बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *