लापरवाही से हीटर यूज करना पड़ सकता है भारी, जानें क्या हैं खतरे और कैसे बरतनी है सावधानी


सर्दियों का मौसम आ चुका है। इस दौरान गर्माहट के लिए लोग घरों और गाड़ियों में हीटर और ब्लोअर का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इसके कई नुकसान भी हैं। हर साल इस मौसम में हीटर या ब्लोअर के चलते होने वाली मौतों की कई खबरें सामने आती हैं। ज्यादा सर्दी में हीटर जरूरी तो है, लेकिन गलत ढंग से इस्तेमाल किए जाने पर यह कई बार बहुत खतरनाक हो जाता है।

कुछ लोग नहाने के तुरंत बाद हीटर के सामने बैठ जाते हैं तो कुछ लोग रात भर हीटर चला कर सोते हैं। कार में भी लोग लगातार हीटर चलाकर ड्राइव करते हैं।

रूम हीटर का ज्यादा इस्तेमाल सेहत के लिए ठीक नहीं

रूम हीटर सेहत के लिए सही नहीं माना जाता। एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसकी बजाय लोगों को गर्माहट के दूसरे विकल्पों को तलाशना चाहिए। रूम हीटर बंद कमरे में हवा को शुष्क कर देता है, जिससे आंखों में खुजली और स्किन रूखी होना शुरू हो जाती है।

हीटर यूज करते समय इन बातों का रखें ध्यान

अगर आप रूम हीटर यूज कर रहे हैं तो इसका इस्तेमाल कम से कम करने की कोशिश करें, ताकि वातावरण में नमी बनी रहे। अगर आप इसका इस्तेमाल करना ही चाहते हैं तो सावधानियां बरतनी पड़ेंगी।

सेहत से जुड़ीं सावधानियां भी जरूरी

  • रूम हीटर का यूज कर रहे हैं तो खाने-पीने पर विशेष ध्यान दें। शुष्क हवा के चलते शरीर में पानी की कमी हो जाने से डिहाइड्रेशन का डर रहता है।
  • इससे बचने के लिए सर्दियों में गर्म पेय पदार्थों का ज्यादा इस्तेमाल करें। इसके अलावा रूम गर्म होते ही खिड़की, दरवाजे खोल दें और हीटर के आगे बैठने के बाद अचानक बाहर न निकलें।

गाड़ियों में ब्लोअर का ज्यादा इस्तेमाल और भी खतरनाक

बहुत से लोग सर्दियों में गाड़ी चलाते समय ब्लोअर इस्तेमाल करते हैं। गाड़ियों में लगातार ब्लोअर चलाने से भारी मात्रा में कार्बन मोनो ऑक्साइड बनती है। इससे सांस लेने में दिक्‍कत समेत कई समस्याएं हो सकती हैं। लगातार ब्लोअर चला कर ड्राइव करने से हादसे का भी खतरा रहता है।

गाड़ियों में ब्लोअर यूज करते हैं तो इन बातों का रखें ध्यान

  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक, गाड़ियों में ब्लोअर यूज करने की बहुत ज्यादा जरूरत नहीं होती। बहुत ज्यादा ठंड है तो ब्लोअर चलाया जा सकता है, लेकिन कुछ समय बाद उसे बंद कर देना चाहिए।
  • अगर गाड़ी में बच्चे हैं फिर तो ब्लोअर को बहुत ही कम यूज करना चाहिए। ऑक्सीजन की कमी के चलते बच्चों को सांस फूलने की समस्या हो सकती है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Winter Season; Side Effects Of Room And Car Heaters? Know Everything About

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *