यूपी-बिहार समेत 9 राज्यों में PFI के ठिकानों पर छापेमारी की, दरभंगा में टीम को घेरा


डायरेक्टोरेट ऑफ इन्फोर्समेंट (ED) ने गुरुवार को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के दफ्तरों पर देश भर में छापे मारे। यह कार्रवाई नौ राज्यों में एक साथ 26 जगह की गई। इनमें केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, कर्नाटक, दिल्ली, बिहार, यूपी, महाराष्ट्र और राजस्थान शामिल हैं।

बिहार में PFI के जनरल सेक्रेटरी मो. सनाउल्लाह के घर छापेमारी करने दरभंगा के शंकरपुर पहुंची टीम को लौटते वक्त गांव वालों ने घेर लिया। उनका कहना था कि छापेमारी में बरामद सामान की लिस्ट उन्हें दी जाए। बताया जाता है कि इस समय सनाउल्लाह कोलकाता में है। इसका पता चलने पर उनको कोलकाता में PFI दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया गया।

पूर्णिया में भी पूछताछ

बिहार के पूर्णिया में भी ED की टीम पहुंची। यहां PFI के ऑफिस में मनी लॉन्ड्रिंग के बारे में पूछताछ की गई। सूत्रों के मुताबिक, यहां विदेशों से पैसा आने की शिकायत मिली थी। यहां भी ईडी को विरोध झेलना पड़ा।

दिल्ली में हुई हिंसा से जुड़ा कनेक्शन

उत्तर प्रदेश में लखनऊ और बाराबंकी में ED की टीम ने छापेमारी की। डायरेक्टर ऑफिस से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली में हुई हिंसा में PFI कनेक्शन सामने आने पर यह कार्रवाई की गई है। इस मामले में लखनऊ से पकड़ा गया नदीम बाराबंकी का रहने वाला है। उससे जुड़े लोगों का इतिहास खंगाला जा रहा है।

हाथरस कांड में मथुरा से पकड़े गए PFI के सदस्यों से पूछताछ के बाद ये कार्रवाई की गई है। मथुरा में पकड़ा गया मेंबर PFI की दिल्ली यूनिट में है। मथुरा में पकड़े गए चार आरोपियों में एक दिल्ली यूनिट में पदाधिकारी है। वह केरल और अन्य राज्यों में सदस्यों के संपर्क में रहता है।

जयपुर में 5 घंटे चली कार्रवाई

जयपुर में ED की टीम ने PFI के दफ्तर पर करीब 5 घंटे पूछताछ की। टीम के जाने के बाद PFI के सदस्यों ने नारेबाजी की। जयपुर में मोती डूंगरी रोड पर मुस्लिम स्कूल के पीछे PFI का प्रदेश कार्यालय है। यहां सुबह करीब 11 बजे टीम पहुंची थी। दोपहर 3:30 बजे टीम लौट गई। यहां से कुछ दस्तावेज भी बरामद किए हैं।

यह कार्रवाई किसानों से ध्यान भटकाने की कोशिश

लखनऊ में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद शकीफ ने बयान जारी कर कहा कि संगठन के पदाधिकारियों के घरों पर ED की छापेमारी किसानों के मुद्दे से ध्यान भटकाने और BJP सरकार की नाकामियों को छिपाने की कोशिश है। इस तरह की कार्रवाई हमें इंसाफ की आवाज उठाने से नहीं रोक सकती।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


दरभंगा में छापेमारी के विरोध में ED की गाड़ी को घेरे PFI के सदस्य।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *