स्पुतनिक-V वैक्सीन का भारत में क्लीनिकल ट्रायल शुरू; केंद्र ने कहा- राज्य ही कोरोना टेस्ट की फीस तय करें


रूस की कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक-V का क्लीनिकल (फेज-2/3 कंबाइंड) ट्रायल मंगलवार से भारत में शुरू हो गया। रूसी डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड और डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरी लिमिटेड ने बताया कि सभी जरूरी मंजूरी मिलने के बाद इस ट्रायल को शुरू किया गया है।
रूस में बनी वैक्सीन स्पूतनिक-V ट्रायल के दौरान कोरोना से लड़ने में 95% असरदार साबित हुई है। क्लीनिकल ट्रायल के दूसरे शुरुआती एनालिसिस में ये बात सामने आई है। पहला डोज देने के 28 दिन बाद इस वैक्सीन ने 91.4% इफेक्टिवनेस दिखाई थी। भारत में इसके ट्रायल के लिए डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरी के साथ रूसी संस्था का करार हुआ है।

टेस्टिंग की फीस निर्धारित करने के लिए कमेटी बनाएं राज्य- केंद्र

केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा कि कोरोना टेस्ट की फीस तय करने की जिम्मेदारी राज्य सरकारों की है। सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्यों को एक कमेटी बनाने का केंद्र सरकार ने सुझाव दिया है। पत्र लिखकर कहा गया है कि वह अपने यहां एक कमेटी बनाएं, जो मार्केट एनालिसिस, टेस्टिंग किट की उपलब्धता के आधार पर राज्य में टेस्टिंग की दरें निर्धारित करें।

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, ”टेस्टिंग फीस और अस्पताल में बेड की फीस तय करने का अधिकार राज्य सरकारों का है। केंद्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में ये नहीं आता है। हम केवल उन्हें सलाह दे सकते हैं। पिछले हफ्ते केंद्र सरकार ने एक लिखित पत्र के जरिए सभी राज्य सरकारों को टेस्टिंग दर निर्धारित करने के लिए कमेटी बनाने का सुझाव दिया है।”

89 लाख से ज्यादा लोग ठीक हुए
देश में अब तक 94 लाख 93 हजार 537 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें ठीक होने वालों का आंकड़ा अब 89 लाख के पार हो गया है। अब तक 89 लाख 24 हजार 634 लोग रिकवर हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 1 लाख 38 हजार 59 हो गई है। ये आंकड़े covid19india.org से लिए गए हैं।

कोरोना अपडेट्स

  • गुजरात से भाजपा के राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज की मंगलवार को मौत हो गई। एक महीने पहले ही वह कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद उन्हें वड़ोदरा के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालात बिगड़ने पर बाद में चेन्नई के अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था। डॉक्टर्स के मुताबिक, आज सुबह हार्ट फेल होने के कारण उनकी मौत हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गुजरात के मुख्यमंत्री समेत कई मंत्रियों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। 4 महीने पहले ही भारद्वाज गुजरात से राज्यसभा के लिए सदस्य चुने गए थे।

  • कोरोना संक्रमित के घर के बाहर पोस्टर लगाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई हुई। कोर्ट ने कहा कि कोरोना मरीजों के घरों पर एक बार पोस्टर लगने के बाद उनसे अछूतों जैसा बर्ताव किया जाता है। इस पर केंद्र सरकार ने कोर्ट में कहा कि यह कोई जरूरी नियम नहीं है, इस प्रैक्टिस का मकसद कोरोना मरीजों को कलंकित करना भी नहीं है, बल्कि यह व्यवस्था दूसरों की सुरक्षा के लिए है। सरकार की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने की कोशिशों में कुछ राज्य यह तरीका अपना रहे हैं।
  • जयपुर के कलेक्टर ने बताया कि जयपुर में यदि किसी क्षेत्र विशेष, किसी गली-मोहल्ले या कॉलोनी में कोरोना संक्रमण के काफी संख्या में मतलब 30 से 50 केस आ रहे हैं, तो हम उसे क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर देंगे। जिस घर में पॉजिटिव आएगा, उस पर नोटिस लगाया जाएगा।
  • गुजरात में भी RT-PCR टेस्ट सस्ता हो गया है। सरकार ने इसकी कीमत 800 रुपए फिक्स कर दी है। होम कलेक्शन करवाने पर 1100 रुपए चार्ज देना होगा।
  • राजस्थान में भाजपा की वरिष्ठ नेता और राजसमंद विधायक किरण माहेश्वरी मंगलवार सुबह पंचतत्व में विलीन हो गईं। उदयपुर के रानी रोड स्थित मोक्षधाम में किरण के इकलौते बेटे प्रशांत ने उन्हें मुखाग्नि दी। एक दिन पहले ही कोरोना से उनकी मौत हो गई थी।

14 दिन बाद सबसे ज्यादा एक्टिव केस कम हुआ

देश में सोमवार को कोरोना के 31 हजार 179 केस आए, 42 हजार 282 मरीज ठीक हो गए और 482 की मौत हो गई। इससे 11 हजार 596 एक्टिव केस कम हो गए। यह 16 नवंबर के बाद सबसे कम हैं। तब 12 हजार 250 एक्टिव केस कम हुए थे। नवंबर में कुल 12.79 लाख केस आए। इनमें से 13.99 लाख मरीज ठीक हो गए, जबकि 15 हजार 508 मरीजों की मौत हो गई। इससे एक्टिव केस में 1.35 लाख की गिरावट दर्ज की गई। यह अक्टूबर से 2.35 लाख कम है। तब 3.70 लाख केस कम हुए थे।

भोपाल में नाइट कर्फ्यू लगने वाले दिन से ही केस बढ़े
भोपाल में 21 नवंबर से रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा है। सिर्फ छूट और जरूरी काम के लिए बाहर निकला जा सकता है, लेकिन केस घटना की जगह बढ़ गए हैं। तब से हर दिन 300 से अधिक केस सामने आ रहे हैं, जबकि उसके पहले यह आंकड़ा 240 से कम था। इतना ही नहीं नाइट कर्फ्यू लगने के बाद संक्रमितों की मौत का आंकड़ा भी लगभग दोगुना हो गया है। कर्फ्यू के पहले हर दिन औसतन एक मौत हो रही थी, जबकि कर्फ्यू के बाद यह संख्या औसतन 2 हो गई। – पढ़ें पूरी खबर

5 राज्यों का हाल

1. दिल्ली

यहां सोमवार को एक बार फिर 100 से ज्यादा कोरोना मरीजों की मौत हुई। बीते 24 घंटे में 3726 नए मरीज मिले। 5824 लोग ठीक हुए और 108 की मौत हुई। अब तक 5 लाख 70 हजार 374 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 32 हजार 885 मरीजों का इलाज चल रहा है। 5 लाख 28 हजार 315 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 9174 हो गई है।

2. मध्यप्रदेश

राज्य में सोमवार को 1383 नए मरीज मिले। 1576 लोग ठीक हुए और 10 की मौत हो गई। अब तक 2 लाख 6 हजार 128 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 14 हजार 771 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 1 लाख 88 हजार 97 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 3260 हो गई है।

3. गुजरात

सोमवार को राज्य में 1502 नए मरीज मिले। 1401 लोग ठीक हुए और 20 की जान चली गई। अब तक 2 लाख 9 हजार 780 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1 लाख 90 हजार 921 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 14 हजार 870 मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रमण से मरने वालों की संख्या अब 3989 हो गई है।

4. राजस्थान

राज्य में सोमवार को लंबे समय बाद नए केस से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी। पिछले 24 घंटे के अंदर 2677 नए मरीज मिले। 2762 लोग ठीक हुए और 20 की मौत हो गई। अब तक 2 लाख 68 हजार 63 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 28 हजार 653 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 2 लाख 37 हजार 98 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 2312 हो गई है।

5. महाराष्ट्र

सोमवार को राज्य में 3837 नए मरीज मिले। 4196 लोग रिकवर हुए और 80 की जान चली गई। अब तक 18 लाख 23 हजार 896 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 90 हजार 557 मरीजों का इलाज चल रहा है। 16 लाख 85 हजार 122 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 47 हजार 151 हो गई है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फोटो मुंबई की है। यहां स्वाब सैंपल कलेक्ट करता स्वास्थ्यकर्मी। मुंबई में अब तक 2.84 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *