फ्रांस में अप्रैल से जून 2021 तक वैक्सीनेशन कैंपेन चलेगा; 24 घंटे के अंदर नॉर्थ अमेरिका में सबसे ज्यादा मरीज मिले


फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने मंगलवार को ऐलान किया कि अप्रैल से जून 2021 तक देश में राष्ट्रीय स्तर पर वैक्सीनेशन कैंपेन चलाया जाएगा। इस दौरान सभी तक सरकार वैक्सीन पहुंचाएगी। मैक्रों ने कहा कि 2021 की शुरुआत में हाई रिस्क वाले लोगों को वैक्सीनेशन का फायदा दिया जाएगा। इसमें डॉक्टर्स, हेल्थ स्टाफ, पुलिस और पब्लिक कनेक्टिविटी रखने वाले सरकारी कर्मचारियों को शामिल किया गया है। आम लोगों के लिए वैक्सीनेशन कैंपेन चलाया जाएगा। इसे अप्रैल में शुरू कर दिया जाएगा। इस कैंपेन के दौरान हर किसी को वैक्सीन लगाई जाएगी।

यूरोप के मुकाबले नॉर्थ अमेरिका में बढ़े मरीज
पिछले 24 घंटे के आंकड़ों पर नजर डालें तो यूरोप के मुकाबले नॉर्थ अमेरिका में सबसे ज्यादा मरीज मिले। यूरोप में सोमवार-मंगलवार के बीच 1.53 लाख केस बढ़े। नॉर्थ अमेरिका में 1.78 लाख नए मरीज मिले। एशिया के 49 देशों में मिलाकर 1.16 लाख नए संक्रमितों की पहचान हुई। इस बीच, यहां 1500 लोगों की जान चली गई।
दुनिया में मरीजों का आंकड़ा 6.37 करोड़

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 6.37 करोड़ के पार हो गया। 4 करोड़ 41 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 14 लाख 77 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

वियतनाम के हनोई शहर में सोमवार को स्कूटर पर जाते लोग। देश में तीन महीने बाद स्थानीय संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। संक्रमित हो चि मिन्ह सिटी में पाया गया है।

वियतनाम में फिर संक्रमण फैलने का खतरा
वियतनाम में करीब तीन महीने बाद लोकल ट्रांसमिशन यानी स्थानीय संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। पहली लहर में जिन देशों ने कोरोनावायरस पर काबू पाया था, उनमें वियतनाम भी अहम था।कोरोनावायरस को सबसे बेहतरीन तरीके से काबू करने वाले देशों में वियतनाम की मिसाल दी जाती है। अब यहां संक्रमण की दूसरी लहर के संकेत मिल रहे हैं।

देश की हेल्थ मिनिस्ट्री ने सोमवार रात कहा कि तीन महीने बाद लोकल ट्रांसमिशन का पहला मामला सामने आया है। माना जा रहा है कि यह मामला देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले शहर हो चि मिन्ह का है। संक्रमित वियतनाम एयरलाइंस के एक फ्लाइट अटेंडेंट का रिश्तेदार है। अब यहां पहले की तरह सख्ती से ट्रैक एंड ट्रैस प्रोग्राम शुरू कर दिया गया है। क्वारैंटाइन फेसेलिटीज को भी नए सिरे से अलर्ट पर रहने को कहा गया है।

हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा- अस्थायी तौर पर कुछ हिस्सों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। लॉकडाउन सिर्फ वहां लगाया गया है जहां यह पॉजिटिव व्यक्ति गया था। माना जा रहा है कि उसके संपर्क में 12 से ज्यादा लोग आए थे। इन सभी को क्वारैंटाइन किया गया है। महामारी शुरू होने के बाद वियतनाम में अब तक कुल 1347 मामले सामने आए हैं। 35 लोगों की मौत हुई। देश की जनसंख्या करीब 95 लाख है।

स्कॉट एटलस का इस्तीफा
डोनाल्ड ट्रम्प के कोरोनावायरस मामलों के स्पेशल एडवाइजर स्कॉट एटलस ने इस्तीफा दे दिया है। वे चार महीने पहले इस पद पर नियुक्त किए गए थे। एटलस की शुरुआत से ही आलोचना की जा रही थी। उन्होंने मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे जरूरी उपायों को कभी तवज्जो नहीं दी। एक बार एटलस ने अमेरिका में कोरोना से हुई मौतों पर ही सवाल खड़े कर दिए थे। एटलस पेशे से न्यूरोलॉजिस्ट हैं और ट्रम्प के करीबी माने जाते हैं।

अमेरिकी लोगों को मिल सकती है राहत
अमेरिका में क्रिसमस के पहले वैक्सिनेशन शुरू हो सकता है। हेल्थ सेक्रेटरी एलेक्स अजार ने सोमवार को कहा कि फाइजर कंपनी की वैक्सीन को जल्द मंजूरी मिल सकती है। इस बारे में हेल्थ डिपार्टमेंट और एफडीए के अफसरों के बीच बातचीत जारी है। एफडीए ही वैक्सीन को मंजूरी देगी। फिलहाल, कंपनी और हेल्थ अफसरों के बीच बातचीत चल रही है। फाइजर का दावा है कि उसकी वैक्सीन 94.1% इफेक्टिव है।

अमेरिका के हॉलीवुड में वैक्सीन ट्रायल के दौरान एक वॉलेंटियर को डोज देता हेल्थ स्टाफर। अमेरिकी हेल्थ सेक्रेटरी ने कहा है कि क्रिसमस के पहले देश में वैक्सीन मुहैया कराई जा सकती है। सबसे पहले फाइजर कंपनी की वैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है। (फाइल)

फ्रांस में 4 हजार से ज्यादा केस
यूरोपीय देशों में संक्रमण का खतरा बरकरार है। फ्रांस में सोमवार को कुल 4,005 नए मामले सामने आए। इसी दौरान 406 संक्रमितों की मौत हो गई।

कोलंबिया बॉर्डर नहीं खोलेगा
कोलंबिया सरकार ने सोमवार को फिर साफ कर दिया कि देश में संक्रमण का खतरा कम नहीं हुआ है। लिहाजा, सभी सीमाएं 16 जनवरी तक बंद रखी जाएंगी। सरकार ने एक बयान में कहा- हमने जो सख्त प्रतिबंध लगाए थे, उनके अच्छे नतीजे मिले हैं और हम नहीं चाहते कि यह मेहनत खराब हो। इसलिए, फिलहाल बॉर्डर खोलने का फैसला टाल दिया है। यह 16 जनवरी के पहले नहीं किया जाएगा।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 13,919,870 274,332 8,222,879
भारत 9,463,254 137,659 8,888,595
ब्राजील 6,336,278 173,165 5,601,804
रूस 2,295,654 39,895 1,778,704
फ्रांस 2,222,488 52,731 162,281
स्पेन 1,664,945 45,069 उपलब्ध नहीं
यूके 1,629,657 58,448 उपलब्ध नहीं
इटली 1,601,554 55,576 757,507
अर्जेंटीना 1,424,533 38,730 1,257,227
कोलंबिया 1,316,806 36,766 1,210,489

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फोटो लिबिया की है। यहां एक सैंपल की जांच करता स्वास्थ्यकर्मी। कोरोना के रोकथाम के लिए दुनियाभर के देश अपने यहां टेस्टिंग को बढ़ावा दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *