दूसरे फेज में 48.62% वोटिंग; सरपंच-पंच के उपचुनावों के लिए भी मतदान हुआ


जम्मू-कश्मीर में डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट काउंसिल (DDC) के चुनावों के लिए मंगलवार को दूसरे फेज की वोटिंग हुई। चुनाव आयोग ने बताया कि इस फेज में 48.62% वोटर्स ने वोट डाले। सुबह 7 बजे शुरू हुई वोटिंग दोपहर 2 बजे तक चली। 28 नवंबर को पहले फेज में 51.76% वोटिंग हुई थी। आर्टिकल 370 हटने और केंद्र शासित राज्य बनने के बाद जम्मू-कश्मीर में पहली बार कोई चुनाव हो रहे हैं।

DDC चुनाव के लिए 321 प्रत्याशी
जिला विकास परिषद (DDC) के चुनावों में 43 क्षेत्रों में वोटिंग हुई। इनमें 25 डिविजन कश्मीर के और 18 जम्मू के हैं। कुल 321 कैंडिडेट मैदान में हैं। इनमें से 196 कश्मीर डिविजन के जबकि 125 जम्मू के हैं। DDC के चुनावों के साथ सरपंच और पंच के उपचुनाव भी हो रहे हैं। DDC, सरपंच और पंच के चुनावों में पहली बार पश्चिमी पाकिस्तान के रिफ्यूजी को भी वोट डालने का अधिकार मिला है। जम्मू-कश्मीर में पश्चिमी पाकिस्तान से आए शरणार्थियों के 22 हजार से ज्यादा परिवार हैं।

पहली बार प्रदेश की 6 पार्टियां मिलकर मैदान में
जम्मू-कश्मीर के इतिहास में यह पहली बार है, जब राज्य की 6 प्रमुख पार्टियां मिलकर चुनावी मैदान में हैं। आर्टिकल 370 हटने के बाद इन पार्टियों ने मिलकर गुपकार अलायंस बनाया है। इनमें डॉ. फारूक अब्दुल्ला की अध्यक्षता वाली नेशनल कॉन्फ्रेंस, महबूबा मुफ्ती की अगुआई वाली पीडीपी के अलावा सज्जाद गनी लोन की पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस, जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट और माकपा की स्थानीय इकाई शामिल है। इनके सामने भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी हैं। मौजूदा राजनीतिक समीकरण के मुताबिक गुपकार अलायंस कश्मीर में मजबूत है, जबकि भाजपा की स्थिति जम्मू में काफी मजबूत है।

चुनावों के 8 फेज
पहला फेज : 28 नवंबर को पूरा हुआ
दूसरा फेज : 1 दिसंबर (पूरा हुआ)
तीसरा फेज : 4 दिसंबर
चौथा फेज : 7 दिसंबर
पांचवां फेज : 10 दिसंबर
छठा फेज : 13 दिसंबर
सातवां फेज : 16 दिसंबर
आठवां फेज : 19 दिसंबर

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फोटो गांदरबल जिले के मरगुंड गांव के पोलिंग बूथ की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *