नाइट कर्फ्यू की वजह से कई लोग शादियां टाल रहे, वेडिंग इंडस्ट्री को करोड़ों का नुकसान होगा


अहमदाबाद में 57 घंटे का कर्फ्यू तो सोमवार सुबह 6 बजे खत्म हो गया, लेकिन अब अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट में नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। यह कर्फ्यू रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा। इसके चलते अब वे लोग परेशानी में आ गए हैं, जिनके घरों में शादियां हैं। नवंबर से दिसंबर तक इन 4 शहरों में करीब 5 हजार शादियां होनी हैं, लेकिन नाइट कर्फ्यू के चलते अब शादियां या तो टालनी पड़ रही हैं या फिर दिन में ही सभी प्रोग्राम निपटाने की तैयारी चल रही है।

कहीं रिसेप्शन की दिक्कत तो कहीं मुहूर्त की
शादी वाले घरों की सबसे बड़ी टेंशन ये है कि वे मैरिज गार्डन से लेकर बैंड-बाजे तक की एडवांस बुकिंग कर चुके हैं। अब जो लोग इस प्लानिंग में हैं कि शादी की रस्में दिन में ही कर लेंगे तो उन्हें रिसेप्शन की चिंता है, क्योंकि सब कुछ रात के 9 बजे से पहले ही करना होगा। इससे भी बड़ी चिंता मुहूर्त की है, जिसके खिलाफ कई परिवार नहीं जाना चाहते और अब वे शादियों टालने का विचार कर रहे हैं।

मैरिज गार्डन से लेकर बैंड-बाजे तक की एडवांस बुकिंग हो चुकी है।

अहमदाबाद में 1700 शादियां अटकीं
अहमदाबाद में शनिवार को 500 और रविवार को 1200 शादियां होनी थीं, लेकिन 2 दिन के कर्फ्यू के चलते सभी शादियां रद्द कर दी गईं। सबसे ज्यादा दिक्कत की बात ये थी कि शादी वाले घरों में मेहमान तक आ गए थे। अब दूसरी परेशानी यह है कि जो लोग शादियों की तारीख आगे बढ़ाना चाहते हैं, उन्हें मुहूर्त वाले दिन मैरिज गार्डन या पार्टी वेन्यू ही नहीं मिल रहे। इसलिए अब फेरों के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है।

होटल इंडस्ट्रीज को करोड़ों का नुकसान
शादियों के चलते कई होटल्स बुक हो चुके थे, लेकिन अब बुकिंग धीरे-धीरे कैंसिल हो रही हैं। होटल व्यवसाय पहले से ही मंदी में है और अब नाइट कर्फ्यू ने बिजनेस और बिगाड़ दिया है। सूरत की होटल इंडस्ट्रीज से जुड़े लोगों ने बताया कि सूरत की छोटी-बड़ी करीब 1500 होटल्स शादी के लिए बुक हो गए थे। इन होटल्स को अब करोड़ों का नुकसान होने वाला है।

गुजरात के चार शहरों में ही दिसंबर तक 5000 शादियां होनी हैं।

वेडिंग इवेंट के बिजनेस पर भी असर
उत्तर गुजरात में करीब 8 महीनों बाद शनिवार से शादियां शुरू हुईं, लेकिन नाइट कर्फ्यू लगने से फिर वही परेशानी आ खड़ी हुई है, जो लॉकडाउन के समय थी। गुजरात के 4 शहरों में ही दिसंबर तक 5000 शादियां होनी हैं। इनके टलने या डिस्टर्ब होने से मैरिज गार्डन, पार्टी प्लॉट, डीजे, और कई छोटे-मोटे बिजनेस को भारी नुकसान झेलना पड़ेगा।

उत्तर भारत में इस साल शादी के मुहूर्त
उत्तर भारत में 15, 25 और 29 जून को हजारों शादियां थीं, लेकिन लॉकडाउन की वजह से इन पर असर पड़ा। यही हाल अब होने वाला है। नवंबर में 20-21, 26, 30 तारीख के मुहूर्त हैं। इनमें से 2 दिन कर्फ्यू में चले गए। इसके बाद दिसंबर में 1,2,6,7,8,9,11 तारीख के मुहूर्त हैं। अगर कर्फ्यू जारी रहा तो वेडिंग इंडस्ट्रीज को भारी नुकसान झेलना पड़ेगा।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


नवंबर से दिसंबर तक इन अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट में ही करीब 5 हजार शादियां होनी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *