पंजाब लगातार 4 मैच जीतकर टूर्नामेंट में बरकरार, प्ले-ऑफ के लिए हैदराबाद की राह मुश्किल


आईपीएल के 13वें सीजन के 43वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने सनराइजर्स हैदराबाद को 12 रन से हरा दिया। पंजाब की यह लगातार चौथी जीत है। टीम 10 पॉइंट के साथ प्ले-ऑफ की दौड़ में बनी हुई है। वहीं, इस हार के साथ प्ले-ऑफ के लिए हैदराबाद की राह मुश्किल हो गई है। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें…

टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए पंजाब ने 127 रन का टारगेट दिया। इसके जवाब में हैदराबाद 114 रन बनाकर ऑलआउट हुई। यह दुबई में सीजन का सबसे छोटा लक्ष्य है। इससे पहले 40वें मैच में राजस्थान रॉयल्स ने हैदराबाद को 155 रन का टारगेट दिया था।

13 बॉल पर 6 विकेट गिरे, पंजाब ने जीत छीनी
आखिरी 13 बॉल पर 6 विकेट लेकर पंजाब ने हारा हुआ मैच जीत लिया। 18वें ओवर की 5वीं बॉल पर विजय शंकर के आउट होने के बाद हैदराबाद का स्कोर 5 विकेट पर 110 रन था। अगली 12 बॉल पर हैदराबाद की टीम सिर्फ 4 रन ही बना सकी और उसके 5 विकेट गिर गए। टीम पूरे 20 ओवर भी बल्लेबाजी नहीं कर पाई।

मनीष-विजय भी जीत नहीं दिला सके
लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजर्स को ओपनर डेविड वॉर्नर (35) और जॉनी बेयरस्टो (19) ने अच्छी शुरुआत दी थी। इसके बाद टीम ने 7 से 9 ओवर के बीच 11 रन के अंदर 3 विकेट गंवा दिए। मनीष पांडे और विजय शंकर ने चौथे विकेट के लिए 33 रन की पार्टनरशिप करते हुए पारी को संभाला। मनीष ने 29 बॉल पर 15 और विजय ने 27 बॉल पर 26 रन की पारी खेली।

विजय के हेलमेट में लगा पूरन का थ्रो
18वें ओवर की चौथी बॉल पर स्ट्राइक पर मौजूद जेसन होल्डर शॉट मारकर एक रन लेने के लिए दौड़े। इसी दौरान निकोलस पूरन ने स्टंप्स पर तेज थ्रो मारा। बॉल सीधी रन दौड़ रहे विजय शंकर के हेलमेट में लगी। हेलमेट की वजह से विजय शंकर बाल-बाल बच गए।

हैदराबाद की पारी के हाइलाइट्स

ओवर रन बने बैट्समैन बॉलर
0-5 44/0 वॉर्नर : 31 रन
6-10 26/3 बेयरस्टो : 8 रन बिश्नोई : 1 विकेट
11-15 27/0 शंकर : 18 रन
16-19.5 17/7 शंकर : 7 रन जॉर्डन : 3 विकेट

अच्छी शुरुआत के बावजूद नहीं संभली पंजाब की टीम

पंजाब ने 7 विकेट गंवाकर 126 रन बनाए थे। टीम को ओपनर लोकेश राहुल और मनदीप सिंह ने सधी हुई शुरुआत दी थी, लेकिन कोई बड़ी पार्टनरशिप नहीं होने से टीम बड़े स्कोर तक नहीं पहुंच सकी। मैच में पंजाब की टीम पर संदीप शर्मा, राशिद खान और जेसन होल्डर पूरी तरह हावी रहे। पंजाब के लिए निकोलस पूरन ने नाबाद 32, राहुल ने 27, क्रिस गेल ने 20, मनदीप ने 17 रन की पारी खेली। हैदराबाद के संदीप, राशिद और होल्डर ने 2-2 विकेट लिए।

लगातार बॉल पर गेल और राहुल आउट
पंजाब ने 66 रन के स्कोर पर लगातार 2 विकेट गंवाए। क्रिस गेल (20) को जेसन होल्डर ने ओवर की आखिरी बॉल पर डेविड वॉर्नर के हाथों कैच आउट कराया। वहीं, ओवर की पहली बॉल पर राशिद खान ने लोकेश राहुल (27) को बोल्ड किया। इससे पहले ओपनर मनदीप सिंह 17 रन बनाकर आउट हुए। संदीप की बॉल पर राशिद ने उनका कैच लिया।

मैक्सवेल सीजन में एक भी छक्का नहीं लगा सके
पंजाब के ग्लेन मैक्सवेल का खराब फॉर्म इस मैच में भी जारी रहा। उन्होंने अब तक खेले 11 मैच की 10 पारियों में 14.57 की औसत से 102 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 32 रन का रहा, जो कि उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ बनाया था। मैक्सवेल इस सीजन में अब तक एक भी छक्का नहीं लगा सके, जबकि चौके भी सिर्फ 8 ही जड़े हैं।

सनराइजर्स में एक और पंजाब टीम में 2 बदलाव

हैदराबाद टीम में एक बदलाव किया गया। शाहबाज नदीम की जगह खलील अहमद को मौका मिला। पंजाब की प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किए। मयंक अग्रवाल और जिमी नीशम को बाहर किया गया। उनकी जगह मनदीप सिंह और क्रिस जॉर्डन की वापसी हुई।

काली पट्टी बांधकर उतरी पंजाब की टीम

पंजाब की टीम मैच में काली पट्टी बांधकर उतरी। दरअसल, शुक्रवार को मनदीप के पिता हरदेव सिंह का निधन हो गया था। वे कुछ समय से बीमार चल रहे थे। मनदीप के पिता को श्रद्धांजलि देने के लिए पंजाब के खिलाड़ियों ने काली पट्टी बांधी।

दोनों टीम में विदेशी खिलाड़ी
हैदराबाद की प्लेइंग इलेवन में कप्तान डेविड वॉर्नर समेत जॉनी बेयरस्टो, जेसन होल्डर और राशिद खान विदेशी प्लेयर रहे। वहीं, पंजाब की टीम में क्रिस गेल, निकोलस पूरन, ग्लेन मैक्सवेल और क्रिस जॉर्डन शामिल रहे।

पंजाब-हैदराबाद के महंगे प्लेयर्स
हैदराबाद की प्लेइंग इलेवन में सबसे महंगे खिलाड़ी डेविड वॉर्नर रहे। उन्हें फ्रेंचाइजी सीजन का 12.50 करोड़ रुपए देगी। इसके बाद टीम के दूसरे महंगे खिलाड़ी मनीष पांडे (11 करोड़) रहे। वहीं, पंजाब में कप्तान लोकेश राहुल 11 करोड़ और ग्लेन मैक्सवेल 10.75 करोड़ रुपए कीमत के साथ सबसे महंगे प्लेयर रहे।

हैदराबाद ने 2 बार खिताब जीता
हैदराबाद ने भी अब तक तीन बार (2018, 2016, 2009) में फाइनल खेला और दो बार (2016, 2009) जीत हासिल की। वहीं, पंजाब अब तक आईपीएल का खिताब नहीं जीत पाई है। पंजाब एक बार ही 2014 में फाइनल में पहुंच पाई है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


किंग्स इलेवन पंजाब की टीम जीत के बाद जश्न मनाते हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *