मुंबई के कई इलाकों में पानी भरा, ठाणे समेत पूरे उत्तरी कोंकण के लिए 24 घंटे का रेड अलर्ट; तेलंगाना में मौत का आंकड़ा 50 हुआ


हैदराबाद के बाद अब महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे समेत कई इलाकों में बुधवार रात से मूसलाधार बारिश जारी है। पुणे के कई इलाकों में पानी भर गया है। यहां घरों, सड़कों, गलियों में घुटनों से ज्यादा पानी भरा है। मौसम विभाग ने मुंबई, ठाणे समेत उत्तरी कोंकण के कई इलाके में गुरुवार को भारी से भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया था। उधर, तेलंगाना में मंगलवार और बुधवार को हुई बारिश के बाद बिगड़े हालात में मरने वालों का आंकड़ा 50 हो गया है।

महाराष्ट्र के बारामती में बारिश की वजह से घरों में घुसा पानी।

मुंबई के लोअर परेल इलाके में भी जलभराव के हालात हैं। शहर के अलग-अलग हिस्सों में बारिश का पानी भरने से राहगीरों की भी दिक्कतें बढ़ गई हैं।

अपडेट्स

  • नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) ने दो रेस्क्यू टीमें कर्नाटक और तीन महाराष्ट्र भेजी हैं। महाराष्ट्र भेजी गई टीमें सोलापुर, पुणे के इंदरपुर और लातूर में डिप्लॉय की गईं।
  • कर्नाटक नीरावरी निगम लिमिटेड के मुताबिक, महाराष्ट्र में भारी बारिश की वजह से सोन्ना बैराज से 2 लाख 23 हजार क्यूसेक पानी अफजलपुर, कलबुरगी जिले में भीमा नदी में छोड़ा गया।
  • मौसम विभाग के मुताबिक, मध्य महाराष्ट्र में अगले 12 घंटे में 20 से 30 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। प्रभावित इलाकों में नुकसान की भी आशंका जताई गई है।
  • सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी में गुरुवार को होने वाले ऑनलाइन और ऑफलाइन एग्जाम को स्थगित कर दिया गया है। रिवाइज शेड्यूल का ऐलान बाद में किया जाएगा।
भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं।

पुणे के बाढ़ प्रभावित इलाके से 40 को रेस्क्यू किया
पुणे के बाढ़ प्रभावित नीमगांव केतकी गांव से बुधवार को 40 लोगों को रेस्क्यू किया गया। बारामती के एसडीओ के मुताबिक, 40 लोगों को बचा लिया गया है, जबकि 15 अन्य लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। वहीं, इंदापुर में एक व्यक्ति तेज बहाव में बह रहा था। हालांकि, स्थानीय लोगों ने जेसीबी की मदद से उसे बचा लिया। भीषण बारिश की वजह से मुंबई के सायन पुलिस स्टेशन और किंग्स सर्कल में भी सड़कें पानी से डूब गई हैं।

भारी बारिश की वजह से श्रीमंत दगडूसेठ हलवाई गणपति मंदिर के पास भी सड़कों पानी भर गया। बारिश के चलते पुणे में कई इलाके में देर रात से बिजली गुल है।

तेलंगाना में बारिश से अब तक 50 की मौत
तेलंगाना के कई इलाकों में मंगलवार से जारी बारिश की वजह से मरने वालों का आंकड़ा 50 पहुंच गया है। इनमें 19 मौतें तो सिर्फ ग्रेटर हैदराबाद में दर्ज की गईं हैं, जबकि चार लोग लापता हैं। इलाके में सड़कें नदियों में तब्दील हो गईं हैं। कई गाड़ियां पानी के तेज बहाव में बह गईं। बुधवार को बंडल गुडा इलाके में एक घर पर पत्थर गिरने से दो महीने के बच्चे समेत नौ लोगों की मौत हो गई थी। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा कि भारी बारिश के चलते करीब 500 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है। उन्होंने केंद्र सरकार से तत्काल प्रभाव से 1,350 करोड़ रुपये की सहायता राशि जारी करने की मांग की।

मौसम विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में कम दबाव पैदा होने की वजह तेलंगाना और ओडिशा के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव कार्यों में एनडीआरएफ और सेना जुटी हुईं हैं। लोगों को बचाने के लिए बोट की मदद ली जा रही है। वहीं, दो हैलिकॉप्टर्स को रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए स्टैंडबाई पर रखा गया है।

प्रधानमंत्री ने तेलंगाना और आंध्र के सीएम से बात की
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्‌डी से बात की। उन्होंने दोनों राज्यों में भारी बारिश से बने हालातों के बारे जानकारी ली और हरसंभव मदद का भरोसा दिया।

गृह राज्य मंत्री किशन रेड्‍डी हैदराबाद पहुंचे
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बुधवार को हैदराबाद के निचले इलाकों का दौरा किया, जहां भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने पिछले 40 सालों में हैदराबाद में इतने बुरे हालात नहीं देखे। पूरा शहर पानी में डूबा हुआ है। शहर की ज्यादातर बस्तियां पानी में डूब गई हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Heavy Rain In Mumbai Pune, Hyderabad Telangana Latest Updates: 30 Dead Including 2-month-old Baby, Waterlogging And Flooding, NDRF Rescue Operation Carried Out

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *