एक साल में 88 देशों में 9.7 करोड़ लोगों तक मदद पहुंचा चुके यूएन के वर्ल्ड फूड प्रोग्राम को शांति के नोबेल के लिए चुना गया


साल 2020 का नोबेल शांति पुरस्कार वर्ल्ड फूड प्रोग्राम संगठन को दिया गया है। नॉर्वे की नोबेल कमेटी की अध्यक्ष बेरिट राइस एंडर्सन ने नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा की। उन्होंने बताया कि 2019 में 88 देशों के करीब 10 करोड़ लोगों तक वर्ल्ड फूड प्रोग्राम से सहायता पहुंची।

वर्ल्ड फूड प्रोग्राम दुनिया भर में भूख को मिटाने और खाद्य सुरक्षा को बढ़ावा देने वाला सबसे बड़ा संगठन है। संगठन ने कोरोना के दौर में दुनियाभर में जरूरतमंदों को खाना खिलाने और मदद करने में भी अहम भूमिका निभाई।

कोरोना महामारी के दौरान वर्ल्ड फूड प्रोग्राम की जिम्मेदारी और बढ़ गई है, क्योंकि भूख से जूझ रहे लोगों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। संस्था का कहना है कि जब तक वैक्सीन नहीं आती, तब तक खाना ही सबसे अच्छी वैक्सीन है।

यह खबर लगातार अपडेट हो रही है…

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Nobel Peace Prize Winners 2020 | World Food Programme wins the Nobel Peace Prize

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *