कोरोना पॉजिटिव ट्रम्प की हालत चिंताजनक, सेहत में सुधार के लिए अगले 48 घंटे अहम; दुनिया में अब तक 3.49 करोड़ केस


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की हालत चिंताजनक हो गई है। अमेरिकन न्यूज चैनल सीएनएन ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पिछले 24 घंटे के अंदर उनकी तबियत बिगड़ी है और सेहत में सुधार के लिए अगले 48 घंटे काफी अहम हैं। हालांकि, शनिवार की सुबह ही ट्रम्प का इलाज कर रहे डॉ. सीन कॉनले ने बताया था कि प्रेसिडेंट ट्रम्प सुबह बेहतर महसूस कर रहे थे। ट्रम्प और मेलानिया दो दिन पहले कोरोना पॉजिटिव मिले थे।

इस बीच, दुनिया में संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 49 लाख 8 हजार 687 हो गया है। राहत की बात है कि इनमें 2 करोड़ 59 लाख 89 हजार 759 लोग ठीक भी हो चुके हैं। अभी 79 लाख 36 हजार 938 मरीजों का इलाज चल रहा है। मरने वालों का आंकड़ा 10.33 लाख के पार हो चुका है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

फ्रांस पर फिर से मंडराया खतरा
फ्रांस में तमाम कोशिशों के बावजूद संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा कम नहीं हो रहा है। यहां शुक्रवार को फिर 12 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए। गुरुवार को 13 हजार 970 केस सामने आए थे। बीते दो हफ्ते में यहां कुल मिलाकर दो लाख से ज्यादा नए केस सामने आ चुके हैं।

सरकार ने रविवार से राजधानी पेरिस के बार और रेस्टोरेंट्स बंद करने का फैसला किया है। हालांकि, इसकी आधिकारिक घोषणा फिलहाल नहीं की गई है। टूरिस्ट प्लेस को लेकर आज नई गाइडलाइन जारी की जा सकती है। कुछ बॉर्डर को सील किया जा सकता है।

कोलंबिया : राजधानी में खतरा ज्यादा
कोलंबिया की राजधानी बोगाटा में संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा बाकी शहरों के मुकाबले ज्यादा घातक साबित हो सकता है। हालांकि, राजधानी की मेयर क्लाउडिया लोपेज मानती हैं कि प्रशासन ने इससे निपटने की तैयारी की है और इसलिए इस पर काबू पाने में कामयाबी हासिल होगी।

क्लाउडिया ने कहा- हम मानते हैं कि दूसरी लहर नवंबर या दिसंबर या इसके पहले भी राजधानी को गिरफ्त में ले सकता है। लेकिन, हमने तैयारियां की हैं। उम्मीद है कि यह पहली लहर की तरह खतरनाक साबित नहीं होगी।कोलंबिया में पांच महीने से लॉकडाउन है। हालांकि, प्रतिबंधों में काफी हद तक ढील दी जा चुकी है। सितंबर से कुछ रेस्टोरेंट्स भी खोले गए हैं। सरकार का कहना है कि छोटे शहरों और स्लम एरिया में संक्रमण का खतरा टला नहीं है।

कोलंबिया की राजधानी बोगाटा में एक व्यक्ति का टेम्परेचर चेक करता हेल्थ वर्कर। यहां की मेयर ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा है और राजधानी पर इसका सबसे ज्यादा असर हो सकता है। (फाइल)

चीन : 10 नए केस
चीन में शुक्रवार को 10 नए मामले सामने आए। गुरुवार को भी इतने ही केस सामने आए थे। नेशनल हेल्थ कमिशन ने एक बयान में कहा- जिन लोगों को संक्रमित पाया गया है, वे सभी दूसरे देशों से चीन आए थे। स्थानीय संक्रमण के कोई संकेत या सबूत नहीं मिले हैं। देश में फिलहाल, 189 एक्टिव केस हैं। इनमें से कुछ मरीजों की हालत गंभीर है। इसके अलावा चार मामलों की रिपोर्ट आनी बाकी है। चीन में अब तक कुल 85,434 मामले सामने आए हैं। मरने वालों की संख्या 4,634 हो चुकी है।

चीन की राजधानी बीजिंग में मौजूद लोग। शुक्रवार को यहां लगातार दूसरे दिन 10 मामले सामने आए। 4 की पुष्टि होनी बाकी है। (फाइल)

स्पेन : मैड्रिड लॉकडाउन के लिए तैयार
स्पेन की राजधानी मैड्रिड में सरकार ने कुछ हॉट स्पॉट्स की पहचान की है। सरकार का कहना है कि यहां लॉकडाउन लगाए बिना संक्रमण रोकना आसान नहीं है। लेकिन, स्थानीय प्रशासन और लोग केंद्र के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। परेशानी की बात यह है कि दो हफ्ते में यहां एक लाख 33 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं और सरकार की फिक्र का सबब भी यही आंकड़ा है।

हेल्थ मिनिस्टर साल्वाडोर इले ने कहा- मैड्रिड की हेल्थ ही स्पेन की हेल्थ भी है। हमने नियमों की नई सूची तैयार कर ली है और इसे जल्द लागू करेंगे। मैड्रिड में 9 उपनगरीय इलाके हैं। यहां करीब 30 लाख लोग रहते हैं। फिलहाल, बाहर से आने वालों पर बैन लगाया गया है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


अमेरिका के राष्ट्रपति डोलाल्ड ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प दो दिन पहले ही कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। (फाइल फोटो)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *