चेन्नई को 3 देश में हराने वाली पहली टीम बनी दिल्ली; डु प्लेसिस के लीग में 2 हजार रन पूरे, पीयूष चावला टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय


दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रन से हरा दिया। दिल्ली की टीम चेन्नई को 3 देश में हराने वाली पहली टीम बन गई। दिल्ली ने यूएई में पहली बार चेन्नई को हराया। 2014 में जब आईपीएल यूएई में हुआ था, तब चेन्नई जीती थी। 2009 में जब द. अफ्रीका में आईपीएल हुआ था, तब दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीता था। वहीं इस मैच में चेन्नई के फाफ डु प्लेसिस ने आईपीएल में अपने दो हजार रन पूरे किए। वहीं पीयूष चावला ने दिल्ली के खिलाफ 2 विकेट लिए। इसके साथ वे टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं।

पृथ्वी शॉ ने मैच में शानदार फिफ्टी लगाई। हालांकि उन्हें 0 के स्काेर पर विकेट के पीछे धोनी ने कैच कर लिया था, लेकिन ना ही बॉलर ने अपील की और ना ही धोनी ने। इसके बाद शॉ ने शानदार 64 रन की पारी खेली।
चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पृथ्वी शॉ को पीयूष चावला के ओवर में स्टम्प आउट किया।
धोनी ने दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर का विकेट के पीछे डाइव करते हुए कैच पकड़ा। टूर्नामेंट में धोनी की फिटनेस चर्चा का विषय बनी हुई है।
दिल्ली के धाकड़ बल्लेबाज ऋषभ पंत ने मैच में उपयोगी पारी खेली। पंत ने संभलकर खेलते हुए दिल्ली का स्कोर 170 के पार पहुंचाया।
पीयूष चावला ने दिल्ली के खिलाफ 2 विकेट लिए। इसके साथ वे टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं।
शेन वॉटसन के चेन्नई की ओर से एक हजार रन पूरे हो गए हैं। वे ऐसा करने वाले चौथे विदेशी खिलाड़ी हैं। प्लेसिस, माइक हसी और मैथ्यू हेडन ऐसा कर चुके हैं।
चेन्नई के मुरली विजय का कैच करने के बाद दिल्ली के कगिसो रबाडा और शिखर धवन ने कुछ इस अंदाज में जश्न मनाया।
कोरोना को मात देकर आए चेन्नई के रितुराज गायकवाड़ लगातार दूसरे मैच में सस्ते में आउट हुए। इस मैच में वे 5 रन बनाकर रन आउट हो गए।
फाफ डु प्लेसिस ने आईपीएल में अपने दो हजार रन पूरे किए। इस मैच में फाफ के अलावा चेन्नई का कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका।
एमएस धोनी ने मैच में 12 बॉल पर 15 रन बनाए। इस सीजन में चेन्नई की यह लगातार दूसरी हार है।
यह दिल्ली की चेन्नई पर सबसे बड़ी जीत है। चेन्नई के खिलाफ रन के लिहाज से ओवरऑल सबसे बड़ी जीत की बात की जाए, तो मुंबई ने 2013 में 60 रन से हराया था।
दिल्ली के खिलाफ चेन्नई का यह 5वां सबसे कम स्कोर है। इससे पहले उसने दिल्ली के खिलाफ 2012 में 110 रन, 2010 में 112 रन, 2015 में 119 रन और 2018 में 128 रन बनाए थे।
चेन्न्ई पर मिली 44 रन की जीत के बाद दिल्ली के फैंस खुशी से झूम उठे।
मैच से पहले दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर और पृथ्वी शॉ से चर्चा करते टीम के कोच रिकी पोंटिंग।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


दिल्ली की पारी के 9वें ओवर में पृथ्वी शॉ के आंखों में कुछ चला गया। इसके बाद एमएस धोनी ने उनकी मदद की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *